#MNN24X7 संभल। उत्तर प्रदेश के संभल जिले में हुई एक शादी में धोखाधड़ी का अनोखा मामला प्रकाश में आया है।आरोप है कि लड़की परिजनों ने अपनी छोटी बेटी की जगह बड़ी बेटी की शादी कर दी।ससुराल में मुंह दिखाई की रस्म के दौरान दुल्हन का घूंघट उठाया गया तो लड़के के परिजनों के पैरों तले जमीन खिसक गई।गुस्साए परिजनों ने दुल्हन को फौरन वापस मायके भेज दिया।अब दूल्हा न्याय न मिलने पर आत्महत्या करने की धमकी दी है।

मिली जानकारी के अनुसार मामला जिले के हजरत नगर गढ़ी थाना क्षेत्र के कटौली गांव का है।यहां रहने वाले डालचंद की कैलादेवी थाना क्षेत्र में रहने वाली एक लड़की से 26 जनवरी को शादी हुई थी।रीति रिवाज के चलते दुल्हन का सिर घूंघट से ढंका हुआ था।पारंपरिक रस्मो-रिवाज के साथ दूल्हा-दुल्हन ने सात फेरे लिए और सात जन्मों तक साथ रहने की कस्में खाईं।

इसके बाद दुल्हन की विदाई करवा कर दूल्हा अपने गांव कटौली ले आया।शादी वाले घर में नई बहू के आने के बाद मुंह दिखाई की रस्म शुरू हुई।दूल्हे पक्ष की महिलाओं ने इस दौरान बहू के सिर से घूंघट उठाया तो घर में मौजूद लोगों के पैरों तले जमीन खिसक गई। दूल्हे पक्ष ने पाया कि घूंघट की आड़ में दुल्हन की बड़ी बहन से उनके बेटे की शादी करवा दी गई। देखते ही देखते पूरे गांव में यह बात फैल गई और दूल्हा पक्ष ने दुल्हन को वापस मायके भेज दिया।दोनों पक्षों के बीच विवाद और पंचायतों का दौर शुरू हो गया।

रिश्तेदारों की मौजूदगी में हुई इस पंचायत में लड़की पक्ष यह कहता हुआ नजर आया कि हमसे दहेज मांगा जा रहा है। वहीं
लड़का पक्ष कह रहा था कि उनके साथ घूंघट की आड़ में लड़की पक्ष ने धोखा किया है।लड़की पक्ष ने अपनी छोटी बेटी दिखाकर अपनी बड़ी बेटी ब्याह दी, दिमागी तौर पर कमजोर है।

26 जनवरी से अभी तक इस मामले में उन्हीं के समाज के लोगों के बीच पंचायतें होती रहीं, मगर अभी तक इस समस्या का कोई हल नहीं निकला।अब दूल्हा डालचंद कह रहा है, अगर मेरे साथ इंसाफ नहीं हुआ तो मैं आत्महत्या कर लूंगा। फिलहाल लड़के पक्ष ने अब पुलिस में इस मामले की तहरीर दी है।पुलिस मामले की जांच कर रही है।

दूल्हे डालचंद ने बताया कि 26 जनवरी को मेरी शादी हुई थी। मुझे दिखाई गई लड़़की कोई और थी,जबकि शादी किसी दूसरी से करवा दी।जिस लड़़की से मेरी शादी करवाई, उसमें दिमागी कमी है,मेरे साथ धोखा हुआ है। मैं उसे अपने पास नहीं रखूंगा।मैं जहर खाकर या फांसी लगाकर मर जाऊंगा।

दूल्हे का पिता ने ने कहा कि जब शादी हुई तो रात के 3 बज रहे थे।लड़की के सिर पर घूंघट पड़ा हुआ था।रीति-रिवाज के हिसाब से दुल्हन घूंघट में ही बैठती है।शादी के बाद दुल्हन को विदा करवाकर घर लाया गया।घर आकर मुंह दिखाई की रस्म हुई तो दूसरी लड़की निकली।जिसे तुरंत ही वापस भेज दिया गया।

Web development Darbhanga